योग दिवस पर योगाभ्यास

विगत 21 जून को विष्व योग दिवस के अवसर पर पूरे विष्व में योग का आयोजन किया गया। जिसमंे लगभग सभी सुप्रसिद्ध व्यक्ति सम्मिलित रहे। इस अवसर पर जगह-जगह योग का आयोजन किया गया। योग की विभिन्न स्थितियों का परिचय जनता जनार्दन ने पाया। उसके लाभों की जानकारी उन्हें मिली। उल्लेखनीय है िकइस योग दिवस पर नर-नारी ने उत्साह पूर्वक भाग लेकर कार्यक्रम को अंतर्राश्ट्रीय स्वरूप बनाने में अपना अमूल्य योगदान देकर आने वाली पीढी को एक अच्छा स्वास्थप्रद संदेष दिया कि भारतीय प्रणाली में एक ऐसा व्यवहार है जिसे करने वाले को किसी प्रकार की व्याधि पीड़ित नहीं कर सकती।
भारत में राश्ट्रपति से लेकर प्रधानमंत्री के साथ ही पूरा देष योग मय हो गया था। समाचार पत्रों में योग दिवस के आयोजनों के समाचार की भरमार है। सभी लोग योग मुद्राओं में लवलीन दिखे। यह देखकर प्रसन्नता हुई । कहावत प्रसिद्ध है कि योग भगाए रोग। यदि हम सभी योग के प्रति जागरूक हो जाये ंतो ऐसा नहीं है कि हम रोग को अपने निकट आने दें। हम सभी के पास रोग के विरोध का एक ऐसा नायाब मार्ग है जिसमें पैसा रूपया लगना नहीं है और रंग चोखा होगा। आप अपने समय का थोड़ा सा हिस्सा लगाए और अपनी निरोगीता की गारंटी पाएं। हमारे यहां योग के अनेक आयोजन होते हैंै । जिससे भारतीय जनता उसका लाभ उठाती रही है। लेकिन उससे जागरूकता का निर्माण न होकर उदासीनता ही अधिक घर कर लेती है। आज जनता में जो योग के प्रति जागरूकता है पहले इसे मात्र साधु महात्माओं का कार्य समझा जाता था। जो व्यक्ति योग की तरफ जाना चाहता था उसे यह समझा जाता था िकवह आदमी साधु बनना चाहता है। परंतु आज स्थिति बदल चुकी है। जनता में योग पिछड़ा होने की निषानी नहीं बल्कि एडवांसिता की पहचान बन चुका है । भले ही इसका नाम भी योग से बदल कर ‘‘योगा’’ हो चुका है।
हमें योग दिवस पर पाये जाने वाले उत्साह को वर्श भर बना कर रखना चाहिए । चाहे हम दस या पांच आसन ही करें लेकिन उसे अपने दैनिक कार्य का अंग बनाना ही चाहिए। जिससे हम यथेश्ट लाभ ले सके। इसलिए वर्श भर कुछ-न-कुछ योग के आयोजन होने ही चाहिए जिसमें जन सहभागिता हो । जिससे जनता का उत्साह बना रहे और उसका लाभ उठा सके।

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s